अपना कोई भी Mobile Number Port कैसे करें?

दोस्तों आज के इस post में हम आपको बतायगे किसी तरह आप अपना कोई भी Mobile Number Port कैसे करें?  यदि आप एयरटेल जिओ बीएसएनएल आईडिया वोडाफ़ोन आदि का नंबर किसी दुसरे कम्पनी मे पोर्ट करना चाहते है। तो आप बिलकुल सही पोस्ट को पढ़ रहे हैं।Mobile Number Port कैसे करें?

Mobile Number Port क्या होता है?

जब हमे अपने number पर telecom company की अच्छी servies न मिलने के कारण या फिर किसी दूसरी company में अच्छे offer होने के कारण हम किसी दूसरे network में जाना चाहते है और साथ ही बिना अपने mobile number को बदले ही तो इस process को number porting या MNP यानी mobile number Portability कहते है।

हर रोज़ कोई नया number लेना और अपने दोस्तों को देने काफ़ी मुश्किल होता है इसलिए टेलीकॉम मंत्रालय ने MNP यानी mobile number Portability को शुरू किया। ताकि आप बिना अपने personal number को बदले किसी दूसरी telecom company में जा सके।

हम में से कई लोग ऐसे है जो की mobile number port ( mnp ) के बारे में अनजान है। यह एक ऐसी सेवा है, जिसका उपयोग करके हम अपने mobile number को बिना बदले किसी भी दूसरी मोबाइल कम्पनी की सेवा ले सकते है। उदाहरण के लिए अगर आपका mobile number aircel का है। और आप बिना नंबर बदले वोडाफोन में जा सकते है।

अभी तक mobile number porting केवल अपने ही राज्य में कर सकते हैं। मतलब की आप अगर उत्तर प्रदेश के रहने वाले तो आप उत्तर प्रदेश के ही किसी mobile operator company से ही सेवा ली जा सकते है। राजस्थान या किसी अन्य राज्य से नहीं।

But अच्छी खबर यह है, कि एक राज्य से दुसरे राज्य में sim port को TRAI (Telecom Regulatory Authority of India) ने approve कर दिया है। So जल्द ही सभी दूरसंचार ऑपरेटर इस अंतर-राज्य एमएनपी सेवाओं को चालू कर देंगे।

Mobile Number Port कब आवश्यक होता है

Mobile Number Port हम अपने मोबाइल ऑपरेटर से परेशान हो जाते है। जैसे की उनका कमजोर network, महंगे प्लान जैसी और भी समस्या हो सकता है। So तब हमें लगता है, की किसी दुसरे मोबाइल ओपरेटर की सेवा लेनी चाहिए। तो ऐसी स्थति में हम बिना अपने number को बदले ऐसा किया जा सकता है।

Mobile Number Port या सिम का नंबर port कब जरुरी होता है? कई बार हम अपने मोबाइल ऑपरेटर से परेशान हो जाते है। जैसे की उनका कमजोर network, महंगे प्लान जैसी और भी समस्या हो सकता है।

So तब हमें लगता है, की किसी दुसरे मोबाइल ओपरेटर की सेवा लेनी चाहिए। तो ऐसी स्थति में हम बिना अपने number को बदले ऐसा किया जा सकता है।

Mobile Number Port के लिये क्या क्या शर्ते होती है

किसी भी कंपनी का सिम कार्ड को पोर्ट करने के लिए निम्नलिखित बातों को ध्यान रखना चाहिए।

  • Mobile number port केवल उसी राज्य में संभव है। जिस राज्य का आपका मोबाइल नंबर है।
  • Sim port के लिये आपका मौजूदा सिम नंबर कम से कम 90 दिन पुराना होना चाहिए।
  • So आपके mobile का मेन balance बाकि नहीं होना चाहिए, मतलब की आपका बिल बकाया नहीं होना चाहिए।
  • And इनके अलावा आपके पास आधार कार्ड भी ID प्रूफ़ के लिये होना चाहिए।

Mobile Number Port कैसे करें?

हमने पहले बताया कि आप MNP के माध्यम से Port Request SMS भेजना पड़ता है, तब आपको UPC Code प्राप्त होगा, जिसका उपयोग मोबाइल नंबर पोर्ट करते समय उपयोग होगा।

अपनी टेलीकॉम कंपनी से हैं परेशान तो ऐसे कराएं नंबर पोर्ट, बहुत आसान है MNP
  1. सबसे पहले अपने मोबाइल नंबर से एक मैसेज भेजें।
  2. मैसेज में PORT लिखकर स्पेस दें और फिर अपना 10 अंकों वाला मोबाइल नंबर लिखें। …
  3. अब मैसेज को 1900 पर भेज दें।
  4. मैसेज भेजने के बाद आपको मोबाइल नंबर पर एक मैसेज आएगा जिसमें एक कोड होगा।

इसके लिये नीचे दिए गए steps को follow करें।

1. सबसे पहले आपको एक message करना होता है। उसके लिए अपने message Box में जाये और new message create करे।

2. New message create करने के बाद आपको capital Latter में PORT<space> mobile number लिखे। और इसे 1900 पर भेज दे। जैसे कि अगर आपका mobile number 9823453256 है तो आपको type करना है PORT 9823453256 और 1900 पर भेज देना है।

3. जैसे ही आप ये message भेजते है कुछ देर बाद 1901 number से एक message आता है जिसमे आपको UPC code मिलता है। जिसकी validity 15 दिन की होती है। यानी आप 15 दिन तक कभी भी number port करा सकते है जिसमे आपको UPC code की जरुरत पड़ती है।

4. अब आपको जिस भी telecom company में number port करना है जैसे airtel, jio, idea etc के store पर अपने जरूरी document जैसे aadhar card, photo, UPC code आदि लेकर जाये और number port की प्रकिया को आगे बढ़ाएं

5. अब आपको एक नया sim card दिया जायेगा। जोकि आपका वही number होगा जिसे अपने number port का message भेज था। मतलब आपका पहले वाला number ही होगा। और आपके नंबर पर message आएगा जिसमे लिखा होगा की number port में 7-10 दिन का समय लगेगा।

6. Number port होने में वैसे तो 6-7 दिन का ही समय लगता है और आपका number port हो जाता है। उसके बाद आपका पहले वाला sim card काम करना बंद कर देता है। तब आपको जो नया sim card मिला था उसे डाल लेना है। और अब आपका number port हो चुका होगा।

Mobile Number Port करने के नुकसान क्या हो सकते हैं?

कस्टमर्स का नुकसान
  • मार्च 2018 तक इन दोनों कंपनियों ने 37 करोड़ पोर्टेबिलिटी रिक्वेस्ट हैंडल की। …
  • इन कंपनियों के सर्विस बंद करने का नुकसान कस्टमर्स पर भी हो सकता है। …
  • कस्टमर पर परमानेंट नंबर बचाने के चलते खराब कॉल क्वालिटी, बिलिंग प्रॉब्लम, महंगे टैरिफ प्लान से भी समझौता कर सकता है।
  • पुराने सिम में पहले से मौजूद Balance और Internet Data नहीं दिया जायेगा।
  • साथ ही Save किए गए सभी Contacts Number नहीं मिलेगा।
  • और पुनः पोर्ट करने के लिए 90 दिनों का इंतजार करना पड़ेगा।

Conclusion / निष्कर्ष:

हम आशा करते है कि हमारे द्वारा Mobile Number Port कैसे करें?  आपको पसंद आये होगे। अगर यह USSD Codes आपको पसंद आया है तो अपने दोस्तों और परिवार वालों के साथ शेयर करना ना भूले। इसके बारे में अगर आपका कोई सवाल या सुझाव हो तो हमें कमेंट करके जरूर बताएं

Leave a Comment